Education

इन 3 तरीकों से आप भी तेज पढ़ पाएंगे

इन 3 तरीकों से आप अपनी रीडिंग स्पीड तेज कर पाएंगे और अपना समय बचा पाएंगे

क्या आपको पता है Any Jones नाम की एक लेडी ने ढाई लाख वर्ल्ड की बुक हैरी पॉटर और द डेथली हैलोज़ को 47 मिनट में पढ़ कर खत्म कर दिया। अगर कोई ऐवरेज रीडर इसे पढ़ेगा तो उसे 15 से 20 घंटे लगेंगे। हमें इतनी स्पीड बनाने की जरूरत नहीं है। लेकिन अगर हम अपनी रीडिंग स्पीड को बढ़ा लें, अपनी अभी की स्पीड से ज्यादा कर लें, तो हम सेम टाइम में ज्यादा पढ़ सकते हैं, ज्यादा समझ सकते हैं और बचे हुए टाइम को कई जगह और यूज कर सकते हैं।

हमारी रीडिंग स्लो होने का सबसे बड़ा कारण है ‘Subvocalisation’. Subvocalisation का मतलब है, कि जब हम कुछ पढ़ रहे होते हैं, तो पढ़ते वक्त साथ साथ मन मे कुछ बोल रहे होते हैं। हमारा दिमाग़ तेज पढ़ने की कैपेसिटी रखता है, हमारी आंखें तेज चलने की कैपेसिटी रखती हैं। लेकिन हमारे दिमाग को और हमारी आंखों को अपनी स्पीड स्लो करनी पड़ती है, क्योंकि उन्हें एडजस्ट करना है और मैच करना है हमारी बोलने की स्पीड जो हम मन में बोल रहे हैं उसके के साथ।

मतलब दिमाग तेज चल सकता है। आंखे तेज चल सकती हैं लेकिन हम इससे तेज बोल तो नही सकते है ना। इसीलिए हमारी रीडिंग स्पीड तेज नहीं हो पाती। आखिर ये Subvocalisation आयी कहां से और क्या ये जरूरी है?

बचपन में जब हम जूनियर क्लासेज में थे, स्कूल में थे, तो हमे ये सिखाया गया था कि बोल बोल कर पढ़ना है, बोल बोलकर याद रखना है। टीचर कहते थे ए फॉर एप्पल हम पूरी क्लास पीछे से ए फॉर एप्पल, बी फॉर बॉय सारी क्लास बी फ़ॉर बॉय, वहीं से हमे आदत पड़ गई कि बोल बोल कर पढ़ो। बोल बोलकर याद करो और हमारा मन पढ़ते वक्त साथ साथ बोलना शुरू हो गया। उस टाइम ये जरूरी था जब हमें लर्निंग शुरू करनी थी। वो लेवल 1 था जैसे गेम में कई सारे लेवल होते है ना, लेवल 1, लेवल 2, लेवल 3 और हम आगे बढ़ते जाते हैं। हम अभी तक लेवल 1 पर ही रुके हुए हैं। हम अभी भी बोल बोल के पढ़ रहे हैं बोल बोल के याद कर रहे हैं।

इस चीज को अब हम खत्म कर सकते हैं और अगले लेवल पर जा सकते हैं। अगर उस चीज को हमने खत्म कर दिया तो हमारी रीडिंग स्पीड बढ़ती जाएगी। जैसे जैसे Subvocalisation कम होती जाएगी वैसे वैसे हमारी रीडिंग स्पीड बढ़ती जाएगी और यह कैसे करना है वह मैं आपको अभी बताने जा रहा हूं।

ये भी पढ़ें > एजुकेशन सिस्टम का पर्दाफाश

स्टेप 1 यूज़ पॉइंटर

सबसे पहले पेन, पेंसिल या फिंगर को पॉइंटर की तरह यूज करना शुरू करो। Text के साथ-साथ मूव करो। फिंगर चलती जाए और आप टेक्स्ट पढ़ते जाओ। इससे होता ये है कि हम पढ़ रहे होते हैं तो हमारी आंखें बहुत कुछ देख रही होती है, जाने अनजाने में हमारी आंखें ये भी देख लेती हैं क्या निकल चुका है और क्या आने वाला है और हमारा अटेंशन वाइड रहता है।

लेकिन अगर हम पॉइंटर यूज़ करते हैं तो हमारा फोकस उस टेक्स्ट पर होता है जिस पर हमे फोकस करना है। जो हमे पढ़ना है। इस वजह से डायवर्जन नहीं होती और हमारी रीडिंग स्पीड बढ़ जाती है।

ये भी पढ़ें > J.K. Rowling एक मोटिवेशन स्टोरी

स्टेप 2 फाॅर्स फास्टर रीडिंग

नई आदत डालनी है तो पुरानी आदत तोड़नी होगी। जब भी फ़ास्ट रीडिंग की प्रैक्टिस करनी हो, तो कोई Text पकड़ो और अपनी नार्मल रीडिंग स्पीड से तेज अपने पॉइंटर को चलाओ। मतलब नॉर्मल स्पीड से तेज पढ़ने की आदत डालो।

इससे आपका मन फॉलो नही कर पायेगा। कभी कुछ बोल पायेगा, कभी कुछ नही बोल पायेगा, आप भागते जाओगे। आपको कुछ समझ नही आ रहा होगा लेकिन आपकी आदत टूट रही होगी। आपके दिमाग को Adopt करना पड़ेगा नई स्पीड के साथ। मन मे मन की आवाज़ को सुने बिना पढ़ने की आदत डालनी होगी। जब ये आदत पड़ गयी तो उसके पास तो कैपेसिटी है समझने की। जब वो उसको आदत पड़ गयी कि मन की आवाज़ को फॉलो नही करना वो फ़ास्ट स्पीड में टेक्स्ट को पढ़ता जाएगा और समझता जाएगा।

शुरू शुरू में प्रॉब्लम आएगी लेकिन धीरे धीरे आपकी रीडिंग स्पीड बढ़ जाएगी।

ये भी पढ़ें > गम भगाओ दम लाओ जिंदगी में

स्टेप 3 एक्टिव रीडिंग

जब हम पढ़ते हैं तो एक ही तरीके से एक ही टोन में पढ़ते हैं। इम्पोर्टेन्ट और Unimportant को एक ही तरह से पढ़ते हैं। Text पढ़ते जाएंगे दिमाग में वस्ता जाएगा।

Active रीडिंग का मतलब एक्टिव तरीके से Text को पढ़ना, देखना कि क्या इम्पोर्टेन्ट है और क्या Unimportant। जहां लगे Unimportant है वहां पॉइंटर को तेज तेज चलाओ और जहां पर लगे ये Text इम्पोर्टेन्ट है, मुझे इसे Retain करना है, वहां पर पॉइंटर को स्लो करदो।

मतलब जो इम्पोर्टेन्ट नही है वो खिसकता जाए और जो इम्पोर्टेन्ट है वहां रुकते जाओ। खुद से देखना, खुद से दिमाग मे बैठाना की कहां क्या कौनसी काम की चीज है। ऐसा करने से आपकी स्पीड भी बढ़ती है और आप ज्यादा लर्न भी कर पाते हो, ज्यादा नॉलेज को भी हासिल कर पाते हो।

इन तीनो स्टेप्स को Effectively करने के लिए एक चीज मैं जरूर कहूंगा कि आपको अपनी रीडिंग स्पीड पता होनी चाहिए। ये करना बहुत ही आसान है मैं आपको बता देता हूँ कैसे।

कोई एक बुक जो आप पढ़ना चाहते हो उसका कोई एक पेज निकाल लो। उस पेज की जो 5 लाइन्स हैं उसके वर्ड गिनो। जितने भी वर्ड हों उनको 5 के साथ डिवाइड करदो। मान लीजिए 60 वर्ड्स हैं 5 लाइन्स में, तो जब हम 60 को 5 से डिवाइड करेंगे तो हमे पता चलेगा कि हर लाइन में 12 वर्ड्स हैं।

अब टाइमर लगाओ और एक मिनट का टाइम सेट करलो। जैसे ही टाइमर को स्टार्ट करदो वैसे ही पढ़ना शुरू करदो। जैसे ही टाइमर बन्द हो आप भी पढ़ना बंद करदो। अब देखो की आपने कितनी लाइन्स पढ़ीं।

मान लेते हैं आपने एक मिनट में 20 लाइन्स पढ़ीं और आपको ये पता है कि एक लाइन में 12 वर्ड्स हैं तो 20 को 12 से गुणा करदो 20×12=240 यानी आपने एक मिनट में 240 वर्ड्स पढ़ें। तो आपकी स्पीड हुई 240वर्ड्स/मिनट

नए रिकार्ड्स को बनाने के लिए पुराने रिकार्ड्स को तोड़ना होगा। जो भी आपकी नई स्पीड निकलती है उसको तोड़ते जाओ और आगे बढ़ते जाओ। खुद को चैलेंज करते जाओ। अगर इन तीनो स्टेप्स को आज ही से आप फॉलो करते हो तो आप जरूर अपनी स्पीड को तेज कर पाओगे।

कोई सबाल हो तो कमेंट करें और लाइक करें।

bestnow

Bestnow एक हिंदी वेबसाइट है. ये वेबसाइट को बनाने का मकसद है आप तक सबसे पहले और सबसे सही जानकारी हिंदी में मिले. आप लोग हमें सपोर्ट करें ताकि हम आप तक कुछ ऐसा पहुचाए जिसकी आप लोगों को जरुरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close