Friendship Shayari

दोस्ती हर वक्त मिलने से नही होती,
दोस्ती तो दिल से है होती।

Friendship Shayari

क्यूँ ज़िन्दगी में ज़ख्म पे मरहम बन जाते हैं दोस्त,
क्यूँ ज़िन्दगी में साथ निभाते हैं दोस्त,
उनसे न खून का होता है न रिवाज़ का होता है रिश्ता,
क्यूँ फिर भी दूर तक साथ चलते हैं दोस्त।

Friendship Shayari

हम उस रब से गुज़ारिश करते हैं,
तेरी दोस्ती की ख्वाइश करते हैं,
हर जन्म में तेरे जैसा ही दोस्त मिले,
तू मिले तो सही वरना ज़िन्दगी ही न मिले।

Friendship Shayari

दोस्ती का एहसान कुछ इस तरह मैं अदा करूँगा,
तू भूल जा मुझे पर मैं हर वक्त तुझे याद करूँगा,
दोस्ती से मैंने बस यही सीखा है,
खुद से पहले मैं तेरे लिए दुआ करूँगा।

Friendship Shayari

रास्तो की क्या सीमा है ये किसे पता,
मंजिल क्या हो ये किसे पता,
दोस्ती का हर पल बहुत अनमोल होता है,
कब एक दूसरे से जुदा हो जाये ये किसे पता।

Friendship Shayari

Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15Next page

Related Articles

Back to top button
Close