Love Shayari

मोहब्बत चाहे कितनी भी सच्ची करलो,
लेकिन लोग सच्ची मोहब्बत
नही अच्छी शक्ल देखते हैं।


दूरियां बहुत हैं मगर पास
रहकर ही कोई खास नही होता,
और तुम तो मेरे दिल के इतने पास हो
की मुझे दूरियों का एहसास नही होता।


ये वो दिल था जो कभी काँटों से
भी मोहब्बत कर लिया करता था,
लेकिन तेरे बदल जाने के
बाद काँटों से भी डर लगता है।


लोग कहते हैं तुम्हारी आँखे
इतनी खूबसूरत क्यों है,
मैंने खा तेज़ बारिश के बाद
मौसम अक्सर खूबसूरत हो जाता है।


तुमने मुझे भुला कर किसी
और का हाथ तो थाम लिया,
पर एक बात हमेशा याद रखना
हर सख्श मोहब्बत नही करता है।


Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31 32 33 34 35 36 37 38 39 40 41 42 43 44 45 46 47 48 49Next page

Related Articles

Back to top button
Close