New Status

New Status

बिछड़ के तुम से ज़िन्दगी सज़ा लगती है; यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है; तड़प उठता हूँ दर्द के मारे मैं; ज़ख्मो को मेरे जब तेरे शहर की हवा लगती है।

New Status


आयें हैं उसी मोड पे लेकिन अपना नही यहाँ अब कोई; इस शहर ने इस दीवाने को ठुकराया है बार-बार, माना कि तेरे हुस्न के काबिल नही हूँ मैं, पर यह कमबख्त इश्क तेरे दर पे हमें लाया है बार-बार।

New Status


जाने क्या था जाने क्या है जो मुझसे छूट रहा है, यादें कंकर फेंक रही हैं और दिल अंदर से टूट रहा है।

New Status


कभी संभले तो कभी बिखरते आये हम; जिंदगी के हर मोड़ पर खुद में सिमटते आये हम; यूँ तो जमाना कभी खरीद नहीं सकता हमें; मगर प्यार के दो लफ्जो में सदा बिकते आये हम।

New Status


New Status Hindi

एहसास बदल जाते हैं बस और कुछ नहीं, वरना नफरत और मोहब्बत एक ही दिल से होती है।

New Status

Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10

Related Articles

Back to top button
Close