Pyar Bhari Shayari

💖 Pyar Bhari Shayari 💖

 लाजवाब है मेरी जिंदगी का फसाना,
कोई सीखे मुझसे हर पल मुस्कुराना,
पर कोई मेरी हंसी को नजर न लगाना,
बहुत दर्द सहकर सीखा है हम ने मुस्कुराना।

Pyar Bhari Shayari


 आप से दूर हो कर हम जायेंगे कहा,
आप जैसा दोस्त हम पाएंगे कहा,
दिल को कैसे भी संभाल लेंगे,
पर आँखों के आंसू हम छुपायेंगे कहा।

Pyar Bhari Shayari


🌹 Pyar Shayari 🌹

 ठोकर ना लगा मुझे पत्थर नही हूँ मैं,
हैरत से ना देख कोई मंज़र नही हूँ मैं,
उनकी नज़र में मेरी कदर कुछ भी नही,
मगर उनसे पूछो जिन्हें हासिल नही हूँ मैं।

Pyar Bhari Shayari


 उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है।

Pyar Bhari Shayari


💖 Pyar Bhari Shayari 💖

आँखों की गहराई को समझ नही सकते,
होंटो से कुछ कह नही सकते,
कैसे बया करे हम आपको यह दिल का हाल की,
तुम्ही हो जिसके बगैर हम रह नही सकते।

Pyar Bhari Shayari

2 Comments

  • कोई फूलों से प्यार करता है
    कोई कांटो से प्यार करता है,
    हम उनसे प्यार करते हैं,
    जो हमसे प्यार करता है!!
    एस.एस .राजपूत

Comments are closed.