Sad Status

मैंने भगवान से पूंछा, मैंने तो उससे सच्ची मोहब्बत की थी, तो उसने मुझे धोखा क्यों दिया, भगबान ने मुझसे कहा, की तूने प्यार गलत इंसान से किया।

IMG 20191119 WA0006


जिंदगी में मोहब्बत उससे करो, जो आपको खोकर भी प्यार करता हो, सिर्फ आपकी अहमियत वही समझ सकता है।

IMG 20191119 WA0005


एक समय था जब बाते करने के लिए समय कम पड़ जाता था, पर आज बहुत समय है पर बातें नही।

IMG 20191119 WA0009


बस मुझे इतना बता दो की मेरी गलती क्या है, मेरे हालात क्या है तुम कभी नही समझ पाओगे, क्योंकि तुमने कभी मुझसे प्यार ही नही किया।

IMG 20191119 WA0008


जाने क्यों कोसते हैं बदसूरती को, क्योंकि बर्बाद करने बाले तो हसीन चहरे होते हैं।

IMG 20191119 WA0007


Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22Next page

Related Articles

21 Comments

  1. मिले तो यूँ मिले
    आदत सी पड़ गई
    अँधेरे में रोशन हुए
    ख़ामोशी के दिये।

  2. Jindagi bhi kitni ajeeb h na kisi ke liye kitna bhi kuch Kyu na KR lo yaaaad wahi log sirf reh jate h Jo log sirf dikhawa krte h aur Meri sbse badi kamjori hasna Khush rehna log ye bhi nhi sochte ki Jo insaan sbse jyada hasta h wo bhooooooot takleef me rehta h

  3. मुस्कुराहट से शुरू होकर ,
    फूट-फूट कर रोने पर होता है खत्म ,
    इसी को लोग इश्क कहते हैं,
    जिसका नहीं है कोई मरहम.

  4. hum bhi gulaab ke phool ki taraha tanaha rehte hai. kabhi khud se toot jate hai. to kbhi apne hi tod dete hai

  5. जब तक दर्द न हो किसी के आंसू आया नही करते,
    बिना वजह किसी का दिल दुखाया नही करते,
    ये बात सुन लो कान खोल कर,
    किसी के सपने तोड़ कर अपने सपने सजाया नही करते।

  6. #_Jindagi main koi #_khas tha
    #_Tanhai k siva na #_pass tha
    Pa to leta #_Jindagi ki har #_khusi,
    Par her #_khusi main uska #_Ahsaas tha…!

  7. Mana Ki Tere Pyar Ka Main Maalik Nahin,
    Par Kirayedar Ka Bhi Kuchh Haq To Banta Hai.

    माना की तेरे प्यार का मैं मालिक नहीं,
    पर किरायेदार का भी कुछ हक तो बनता है।

  8. दुआ हैं हर किसी को कोई ऐसा मिले जो उसे कभी रोने ना दे ..
    very good collection..

  9. खुद की जान लेने से पहले एक इंसान ने एक चिट्ठी में लिखा था
    जो मेरी मौत पर रो रहे है
    अगर मैं उठ जाऊ तो ये मुझे जीने नहीं देंगे

    Mental Vivek ✍️…

      1. मुस्कुराहट से शुरू होकर ,
        फूट-फूट कर रोने पर होता है खत्म ,
        इसी को लोग इश्क कहते हैं,
        जिसका नहीं है कोई मरहम.

        1. कोई था हमारी जिंदगी में जिसे हमारे चुप रहने से भी कभी फर्क पड़ता था, फिर न जाने अचानक क्या हुआ आज रोने से भी फर्क नही पड़ता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button