New Shayari

❤ New Shayari ❤

शायद ये वक़्त हमसे कोई चाल चल गया, रिश्ता वफ़ा का और ही रंगों में ढल गया, अश्क़ों की चाँदनी से थी बेहतर वो धूप ही, चलो उसी मोड़ से शुरू करें फिर से जिंदगी।

New Shayari


याद जब आती है तुम्हारी तो सिहर जाता हूँ मैं, देख कर साया तुम्हारा अब तो डर जाता हूँ मैं, अब न पाने की तमन्ना है न है खोने का डर, जाने क्यूँ अपनी ही चाहत से मुकर जाता हूँ मैं​।

New Shayari


💨 New Shayari Images 💨

किस्मत बुरी या मैं बुरा… ये फैसला न हो सका, मैं हर किसी का हो गया कोई मेरा न हो सका।

New Shayari


 छोंड़ गए हमको वो अकेले ही राहों में, चल दिए रहने वो गैर की पनाहों में, शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आयी, तभी तो सिमट गए वो औरों की बाँहों में।

New Shayari


🗯 New Shayari Love 🗯

वक्त की एक आदत बहुत अच्छी है, जैसा भी हो गुजर जाता है, कामयाब इंसान खुश रहे ना रहे, खुश रहने वाला इंसान कामयाब जरूर हो जाता है।

New Shayari