Sad Shayari

न सीरत नज़र आती है, न सूरत नज़र आती है, यहाँ हर इंसान को बस अपनी ज़रूरत नज़र आती है।


जिंदगी तो कट ही जाती है, बस यही एक जिंदगी भर गम रहेगा की हम उसे ना पा सके।


मोहब्बत कभी झूठी नही होती है, झूठे तो कसमे, वादे और लोग होते हैं।


हमारे अकेले रहने की एक वजह ये भी है, की हमे झूठे लोगो से रिश्ता तोड़ने में ज़रा भी डर नही लगता है।


दुआ करो जो जिसे मोहब्बत करे वो उसे मिल जाये, क्योंकि बहुत रुलाती है ये अधूरी मोहब्बत।


ये तो सच है ये ज़िन्दगानी उसी को रुलाती है, जिसके आँसू पोछने बाला कोई नही होता है।


मेरी तन्हाई को मेरा शौक मत समझना, क्योंकि किसी अपने ने ये बहुत प्यार से दिया था तोहफे में।


अब तो मेरे दुश्मन भी मुझे ये कह कर अकेला छोड़ गये, की जा तेरे अपने ही बहुत हैं तुझे रुलाने के लिए।


हाथो की लकीरे देख कर ही रो देता है अब तो ये दिल, इसमें सब कुछ तो है पर एक तेरा नाम ही नही।

Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31
Back to top button
Close