Dard Bhari shayari

💦 Dard Bhari Shayari 💦

आज फिर तेरी याद आयी बारिश को देख कर, दिल पे ज़ोर न रहा अपनी बेबसी को देख कर, रोये इस कदर तेरी याद में, कि बारिश भी थम गयी मेरी बारिश को देख कर।

Dard Bhari Shayari


💔 Dard Bhari Shayari In Hindi 💔

इस दिल की दास्ताँ भी बड़ी अजीब होती है, बड़ी मुस्किल से इसे ख़ुशी नसीब होती है, किसी के पास आने पर ख़ुशी हो न हो, पर दूर जाने पर बड़ी तकलीफ होती है।

Dard Bhari Shayari


😌 Dard Shayari 😌

बहुत अजीब हैं ये बंदिशें मोहब्बत की, कोई किसी को टूट कर चाहता है, और कोई किसी को चाह कर टूट जाता है।

Dard Bhari Shayari


💨 Dard Shayari In Hindi 💨

 मेरे दिल का दर्द किसने देखा है, मुझे बस खुदा ने तड़पते देखा है, हम तन्हाई में बैठे रोते हैं, लोगों ने हमें महफ़िल में हँसते देखा है।

Dard Bhari Shayari

💔 दर्द भरी शायरी 💔

Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10Next page

Related Articles

8 Comments

  1. आज़माते है लोग सब्र मेरा।।
    .
    .
    .
    ज़िक्र तेरा बार् बार करके।।

  2. shayari collection hamesha se hi acha raha hai.
    kisi bhi category ki shayari dhundh lo .. finally yahi aa ke milti hai.

    1. Haste huye jakhamo ko bhulane lage hai ham.
      Har dard ke nisan mitane lage hai ham.
      Ab or koi julm sataye ga Kya bhla.
      Gulmo sitam ko ab to satane lage hai ham……

  3. खुशनसीब होते हैं बादल जो दूर रह कर भी जमीन पर बरसते हैं
    एक बदनसीब हम हैं जो एक ही दुनिया में रह कर भी मिलने को तरसते हैं

  4. बहुत अजीब हैं ये बंदिशें मोहब्बत की, कोई किसी को टूट कर चाहता है, और कोई किसी को चाह कर टूट जाता है।

    1. Her din usko chahenge hum ye waada humne unse kiya tha, hum toh aj be wada nibha rahe hai or wo esi wado pe humare hans rahe hai!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button