Shayari On Life

Shayari On Life

महफ़िल में चल रही थी मेरे कत्ल की तैयारी,
हमे देख कर बोले बहुत लम्बी उम्र है तुम्हारी।

Mahfil me chal rahi thi mere katl ki taiyari, Hame dekh kar bole bahut lambi umar hai tumhari.

Shayari On Life

चाहे कितनी भी मुसीबत आये जिंदगी में, मैं गर्व से फूल जाता हूँ।
और जब हँसती है मेरी माँ मुझे देख कर, तब मैं सारे गम भूल जाता हूँ।

Chaahe kitni bhi musibat aaye zindagi me, Main garv se fool jata hun. Aur jab hansati hain meri maa mujhe dekh kar, Tab main saare gam bhool jata hun.

Shayari On Life

इस जिंदगी में कहाँ मिलते है समझने वाले,
अक्सर लोग हमे समझा कर चले जाते हैं।

Iss zindagi me kahaan milte hai samjhne wale, Aksar log hame samjha kar chale jaate hain.

Shayari On Life

हम तो रोज़ खुद को पड़ते हैं,
और रोज़ छोड़ देते हैं,
हमतो हर रोज़ जिंदगी का एक
पन्ना मोड़ देते हैं।

Ham toh roj khud ko padte hain, Aur roj chhod dete hain, Hamto har roj zindagi ka ek panna mod dete hain.

Shayari On Life

हमारी खुशियाँ जरा जल्दी में थी इसलिए वो चली गई,
और गम की घड़ी जरा फुर्सत से आया थी इसलिये ठहर गई।

Hamari khushiyaan jara jaldi me thi isiliye woh chali gayin, Aur gam ki ghadi jara fursat se aai thi isiliye thahar gai.

Shayari On Life

Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

Download HQ Images >

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button